Posts

लीजिए साहब हैसियत सामने आ गई

हम कैसा देश बनें

हाथी और ड्रैगन की लड़ाई

देश और शरीर में बड़ा फरक है

गुंडे चढ़ गए हाथी पे, पत्थर रख लो छाती पे

बिग बॉस के घर में सबके पाप धुल जाएंगे

अल्पायु में लगीं लोकतंत्र को बड़ी बीमारियां

साझा जीवन शैली के सौ सबूत हैं वहां

दलित एक्ट में मायावती अंदर क्यों नहीं हुईं

वंदेमातरम- सारे जहां से अच्छा हिंदोस्तां हमारा

आज कश्मीर को आजाद कर देना चाहिए

मैं पैर छूने के खिलाफ नहीं हूं

बेटियों का पैर छूना बंद कर दें तो, बेटियों का बड़ा भला हो जाए

क्या आपके यहां बेटी का पैर छुआ जाता है

लीजिए मायावती का राजनीतिक उत्तराधिकारी

घूरा बनने में कितना दिन लगता है