Posts

वो जीना चाहती थी और मैं भी चाहता हूं कि वो जिंदा रहे

इस सरकार का फर्मा ही बिगड़ा हुआ है!

क्रांति ऐसे ही होती है!

फांसी!

12 साल में कितना बदल गया हिंदू!

रिश्वत लेने-देने में बुराई क्या है?

संपादकीय सत्ता!