Posts

ब्लॉगवाणी में सेटिंग से काम होता है

वैलेंटाइन डे से भी गया गुजरा हो गया है गणतंत्र दिवस

उत्तर प्रदेश में फिर शुरू होने वाला है खूनी खेल

नेताजी को याद तक करने से डरती है कांग्रेसी सरकार

भरोसा हो गया कि बजरंगबली सच थे

अच्छा हुआ एनडीटीवी में दिबांग की हैसियत कम हो गई

अब मंगते लोगों को महान बनाएंगे

मैं किसी लड़की के कपड़े फाड़ना चाहता हूं

जापानी चाहते हैं भारतीय शिक्षा

एक पूरे जिले को तरक्की और बचत की आदत

बलिया से चंद्रशेखर के बेटे की जीत के मायने

अब सिर्फ पुराने लोगों की याद में ही इलाहाबादी कॉफी हाउस

ये कोई पहेली तो है नहीं जो किसी की समझ में नहीं आती